रोलेक्स का गहन विश्लेषण

केस

ऑयस्टर केस

ऑयस्टर केस

असीम संभावनाओं की दुनिया

यह हमारा ऑयस्टर केस है, दुनिया का पहला जल प्रतिरोधी कलाई घड़ी का केस, जिसे रोलेक्स द्वारा 1926 में परिकल्पित और पेटेन्ट किया गया था। अपनी तरह की अनूठी सुविधा, जिसके भीतर कॉग और सूक्ष्म रूप से तैयार किए गए भागों की एक जटिल दुनिया है। सबसे परिष्कृत कुछ मिश्रित धातुओं से बना, ऑयस्टर केस सभी प्रकार के बाहरी प्रभावों के सामने अतुलनीय रूप से प्रतिरोधी है।

फिर भी कोई चीज़ इतनी भली भांति एयरटाइट, इतनी अचल इतनी सारी संभावनाओं के द्वार नहीं खोल सकती है। अपने मूल पेटेन्ट डिज़ाइन के साथ एक बेज़ेल, एक केस बैक और एक वाइडिंग क्राउन, जिसे केस का मध्यवर्ती भाग के विपरीत स्क्रू-डाउन किया गया, इसने घड़ीसाज़ी के इतिहास को गहराई से बदल दिया और सभी कलाई घड़ियों के लिए जल प्रतिरोधी क्षमता के नए मानक स्थापित किए। आज तक, ऑयस्टर केस हमारी घड़ियों और उनके भीतर हमारी गतिविधियों की रक्षा करना जारी रखता है। यह विश्वसनीयता के लिए हमारी निरंतर खोज के निर्विवाद प्रमाण के रूप में खड़ा है।

ऑयस्टर केस
साइक्लॉप्स लेंस

साइक्लॉप्स लेंस

एक ही झलक में

यह हमारा साइक्लॉप्स लेंस है। तारीख को आसानी से दिखाने के लिए 1953 में इसे प्रस्तुत किया गया, जिसे विंडो के ऊपर, 3 बजे के घंटे के संकेत पर क्रिस्टल पर सेट किया गया है और यह कर्व्ड लेंस हमारी सबसे अनूठी विशेषताओं में से एक बन गया है।

शायद पहली नज़र में यह बहुत तकनीकी न लगे। फिर भी, अधिकतम दक्षता प्राप्त करने के लिए समय के साथ इसके संरचना से लेकर इसके आकार तक में लगातार सुधार किया गया है। वर्तमान में, इसे वस्तुतः खरोंच मुक्त नीलम क्रिस्टल से बनाया गया है, और इस पर दोहरी परावर्तक - रोधी कोटिंग भी की गई है। इस लेंस पर तुरंत ही नज़र जाती है। और जैसा कि इसका काम है, यह तारीख को तुरंत ही स्पष्टता से प्रदर्शित करता है। आसानी से। एक ही नज़र में।

Cyclop lens
क्राउन गार्ड

क्राउन गार्ड

नेविगेशन बंद करें

यह है हमारा क्राउन गार्ड। वाइडिंग क्राउन की सुरक्षा के लिए डिज़ाइन किया गया, इसे हमारी अधिकांश व्यावसायिक घड़ियों से लैस करने से पहले 1959 में सबमरीनर और GMT-मास्टर में पेश किया गया था।

केस का मध्यवर्ती भाग के एक अभिन्न अंग के रूप में मुद्रित, यह केस के किनारों को क्राउन के नोक तक खूबसूरती से फैलाता है। इसका अनोखा डिज़ाइन प्रत्येक मॉडल के कर्व के साथ पूरी तरह से मेल खाता है, जो केस की सामंजस्यपूर्ण निरंतरता सुनिश्चित करता है। करीबी सुरक्षा के लिए दो अविभाज्य गुणों की आवश्यकता होती है: एक आश्वस्त करने वाली उपस्थिति और अगोचर बने रहने की क्षमता।

क्राउन गार्ड
ट्रिपलॉक

ट्रिपलॉक

तीन की शक्ति

यह हमारा ट्रिपलॉक वाइंडिंग क्राउन है। यह एक अभिनव प्रणाली से सुसज्जित है जिसे हमने 1970 में सी-ड्वेलर पर शुरू किया था: एक "तीन लॉक" जो तीन सीलबंद क्षेत्र बनाता है। 1926 की शुरुआत में, हमारा ऑयस्टर केस एक स्क्रू-डाउन क्राउन के साथ आया था ताकि जो हो "सकता" है उसे रोका जा सके: घड़ी में पानी, पसीना या धूल का प्रवेश।

फिर, 1954 में, हमने ट्विनलॉक वाइंडिंग क्राउन और इसके अतिरिक्त वॉटरप्रूफ बैरियर की कल्पना की ताकि जो हो "सकता" है उसका मुकाबला किया जा सके: उदाहरण के लिए, एक दुर्लभ घटना जो गोता लगाने के दौरान गास्केट को क्षतिग्रस्त कर सकती है। जहां तक हमारे ट्रिपलॉक वाइंडिंग क्राउन की बात है, इसे उस चीज़ का सामना करने के लिए बनाया गया था जो कभी भी "नहीं हो सकता" है: जैसे कि सतह से 11,000 मीटर (36,090 फीट) नीचे क्राउन किसी तरह खुद खुलने लग जाये... इसलिए, गहराई चाहे जितनी भी हो, हमने अपनी घड़ियों को अविश्वनीय रूप से सील कर दिया है।

Triplock lens
हीलियम एस्केप वॉल्व

हीलियम एस्केप वॉल्व

कोशिश करने वालों की हार नहीं होती

यह है हमारा हीलियम एस्केप वॉल्व। 1967 में पेटेंट किया गया, यह गहन गोताखोरी के लिए डिज़ाइन की गई हमारी घड़ियों को सुरक्षित रखता है। रोलेक्स ने इस वॉल्व का आविष्कार इसलिए किया ताकि हाइपरबेरिक टैंकों में गोताखोरी के लिए उपयोग किया जाने वाला हीलियम, दबाव हटने के दौरान छोड़ा जा सके।

जब वाचकेस के अंदर का दबाव बहुत अधिक होता है तो वॉल्व व्यवस्थित रूप से चालू हो जाता है। इस प्रकार, घड़ी की वायुबंदी से कभी समझौता नहीं किया जाता है। सैचुरेशन-डाइविंग करते समय मानवों के लिए अनिवार्य, हीलियम एक नोबल गैस है, लेकिन हस्तक्षेप करने वाली गैस है। इसके परमाणु किसी भी वस्तु को भेद सकते हैं। यहाँ तक कि वाचकेस के सील के माध्यम से भी, चाहे वे कितने भी हवाबंद क्यों न हों। और अगर चढ़ाई के दौरान उनसे जल्दी से निपटा नहीं जाता, तो आंतरिक दबाव के कारण काँच टूट सकता है जिससे घड़ी के केस और चलने की अखंडता प्रभावित होगी। और हमने इस स्व-विनियमन प्रणाली का आविष्कार किया, जिसमें आज एक वायुबंद सिलेंडर, एक पिस्टन, एक सील और एक स्प्रिंग शामिल है। क्योंकि हमारे लिए, जब बात गहराई की हो, तो सच्ची जीत दूर तक जाने से भी ज्यादा, कैसे वापस आते है इस बात में है।

हीलियम एस्केप वॉल्व
रिंगलॉक प्रणाली

रिंगलॉक प्रणाली

दबाव में

2008 में प्रस्तुत की गई हमारी रिंगलॉक प्रणाली हमारी गोताखोरी घड़ियों को अत्यधिक गहराई में कार्य करने के लिए बनाई गई है। यह अद्वितीय और पेटेंट की गई केस संरचना है, जो रसातल के भारी दबाव का सामना कर सकती है। आइए, इसकी विशिष्ट तीन-परतीय वास्तुकला में गोता लगाएँ।

सबसे पहले है एक छोटा गुंबददार नीलम क्रिस्टल है, जो कुछ मिलीमीटर से अधिक मोटा नहीं होता। उसके भीतर, हमारा सामना होता है नाइट्रोजन-समृद्ध स्टील से बने अत्यधिक प्रतिरोधी कम्प्रेशन रिंग से। इसके और भीतर, नाइट्रोजन से समृद्ध किया हुआ एक आरएलएक्स टाइटेनियम मिश्रित धातु केस-बैक मिलता है। हमारे मूल ऑयस्टर केस को ध्यान में रखते हुए, जो जल प्रतिरोधन में हमारी कुशलता में मील का पहला पत्थर है, यह रिंगलॉक प्रणाली हमारे दृढ़ विश्वास की अभिव्यक्ति है और हमारी महत्वाकांक्षा की लगातार पुष्टि करती है। हमारे लिए, चाहे यह जितना भी अक्षम्य हो, पर दबाव पूर्ण हवाबंदी के लिए हमारी खोज में एक महत्त्वपूर्ण प्रेरक है, जो हमें जलरोधी की अपनी कुशलता को और भी आगे ले जाने के लिए प्रेरित करता है। और अगर हम दबाव को सहयोगी बनाने में सफल रहे हैं, वो इसलिए कि आपको नई गहराइयों तक पहुँचने में सक्षम बना पाएँ।

रिंगलॉक प्रणाली

रोलेक्स घड़ीसाज़ी जानकारी

निर्माण में उत्कृष्टता