मास्टरपीस बनाने की तैयारी

रोलेक्स और सिनेमा

फ़िल्ममेकर्स और रोलेक्स दोनों का एक ही उद्देश्य है - ऐसी फ़िल्में और टाइमपीस तैयार करना जिनकी गुणवत्ता हमेशा बनी रहे।

जब मर्लिन ब्रैंडो ने कर्नल कुर्तज़ की यादगार भूमिका एपोकैलिप्स नाओ में निभाई थी, तब उन्होंने रोलेक्स घड़ी पहन रखी थी। द कलर ऑफ़ मनी फ़िल्म में पॉल न्यूमैन ने एक तेज़-तर्रार पूल खिलाड़ी फ़ास्ट एडी फ़ैलसन का किरदार निभाया था, तो उनके भी हाथों में यह मौजूद थी। ठीक इसी तरह, टाइटैनिक फ़िल्म में बिल पैक्सटन ने भी इसे पहना था, उन्होंने खजाना खोजने वाले ब्रॉक लवेट का किरदार निभाया था जो इस चर्चित जहाज के डूबने के बाद उसके खजाने की खोज करता है।

बहुत से नामी कलाकारों ने इसे महान फ़िल्मों में पहना, रोलेक्स घड़ियों ने दशकों से हॉलीवुड की फ़िल्मों में अपनी अहम भूमिका निभाई है। हालाँकि, ये सिलसिला अभी भी जारी है, जबकि कंपनी ने कभी भी अपने प्रोडक्ट को इस तरह से फ़िल्मों का हिस्सा बनाने की कोई पहल अपनी तरफ़ से नहीं की। ये घड़ियाँ, निर्देशकों की पसंद है जिसकी वजह से ब्रैंड की खूबियों को वे बारीकी से अपने किरदारों में दिखाते हैं - कठोरता और नियंत्रण के साथ ही परिष्कृत शैली की भावना। रोलेक्स घड़ी की एक झलक भी गहरा असर डालती है।

साल 2017 में रोलेक्स ने एकेडमी ऑफ़ मोशन पिक्चर आर्ट्स एंड साइंसेज़ (एएमपीएएस) के साथ पार्टनरशिप करके हॉलीवुड के साथ अपना रिश्ता औपचारिक तौर पर जोड़ा और ऑस्कर® के स्पॉन्सर बने। दोनों ही संस्थान इतिहास साझा करने व बनाने की भावना से जुड़े हैं और दोनों का उद्देश्य भी हमेशा के लिए बरकरार रहने वाले चीज़ तैयार करना और संरक्षित करना है, भले ही वह कोई फ़िल्म हो या कोई कलाई घड़ी।

समय को बाँधना

आखिर एक मास्टरपीस तैयार करने के लिए क्या चाहिए? फ़िल्ममेकिंग हो या फिर घड़ीसाज़ी दोनों में ही, कोई मास्टरपीस बेहतरीन काम का एक ऐसा नमूना होता है जो समय को एक पल में बाँध लेता है, अधबने विचारों और भावनाओं को उजागर कर दे और लोगों को दुनिया एक नए नज़रिये से देखने के लिए प्रेरित करे। यह बदलाव लाने के लिए की गई पहल से कम नहीं है, जो अपनी ताकत को नहीं खोती है। यह मनुष्यों की रचनात्मकता का जश्न है, जो हमेशा ही बरकरार रहता है, भले ही कितने ही साल गुज़रते चले जाएँ। मास्टरपीस भले ही एक घड़ी हो या फिर कोई क्लासिक फ़िल्म, दोनों को ही बनाने के लिए सिर्फ़ एक मज़बूत दृष्टिकोण और एक रचनात्मक विचार ही काफ़ी नहीं होता है। इसे तैयार करने के लिए टेक्नीशियन, इंजीनियर और क्राफ़्ट का काम करने वाले लोगों की एक पूरी टीम की ज़रूरत होती है, जो इस जटिल तंत्र में बहुत अहम भूमिका निभाते हैं। उत्कृष्टता की तलाश में घड़ीसाज़ और फ़िल्ममेकर दोनों ही कला और विज्ञान के सही मिश्रण में अपने काम की हर बारीकी को हर स्तर पर दिखाते हैं।

बदलता इतिहास

रोलेक्स फ़िल्मों में कहानी सुनाने की कला को प्रोत्साहित करता है क्योंकि उसके पास भी सुनाने के लिए, सदियों पहले हुए अपने आविष्कार से लेकर आज का नामी ब्रैंड बनने की महान कहानी है। साल 1926 में रोलेक्स ऑयस्टर ने - जो घड़ीसाज़ी तकनीक में मास्टरपीस है क्योंकि यह दुनिया की पहली वॉटरप्रूफ़ कलाईघड़ी है - जिसने इतिहास की दिशा ही बदल दी। अब पहली बार, लोग एक्टिव लाइफ़स्टाइल को अपनी ज़िंदगी का हिस्सा बना सकते थे और दूर बसे क्षेत्रों जैसे कि पहाड़ों के शिखर पर एख विश्वसनीय, सटीक और मज़बूत घड़ी के साथ जा सकते थे।

रोलेक्स ने 500 से अधिक पेटेंट के साथ - और सबमरीन जैसी घड़ी सफलतापूर्वक बनाकर उत्कृष्ट कृतियों को बनाने का गौरव हासिल किया, जिसने 100 मीटर की गहराई तक लोगों को बेफ़िक्र होकर जाने में सक्षम बनाया, और असाधारण स्तर की खोज करना भी इससे संभव हुआ। यही वह ताकत है जो रोलेक्स को आगे बढ़ने के लिए प्रेरणा देती है, चाहे वह बेहतरीन टाइमपीस बना रहा हो या किसी खेल और कला को समर्थन दे रहा हो। यही वजह भी है कि रोलेक्स ने एकेडमी के साथ एक पार्टनरशिप की है, जो इसी तरह की उत्कृष्टता की खोज से प्रेरित है।

गैलरी एक्सप्लोर करें

  • 1945 - डेटजस्ट का जन्म, आर्क के आकार में क्लासिक घड़ी।
  • 1969 - साइक्लॉप्स लेंस की विशेषता वाली डेटजस्ट, रोलेक्स की नवीन कृति।
  • 1990 - डेटजस्ट के साथ क्रिस्टल स्क्रैचप्रूफ़ सैफ़ायर का बना हुआ है।

उत्कृष्टता की खोज में भागीदारी

हर साल, बेहतरीन अभिनेताओं, फ़िल्ममेकर और टेक्नीशियनों कोऑस्कर®में अपने साथियों के ज़रिए ही चुना जाता है, जो दुनिया में सबसे ज़्यादा प्रत्याशित इवेंट में से एक है। रोलेक्स द्वारा समर्थित - एकेडमी अवार्ड® - का उद्देश्य बेहद गंभीर है, वह है उत्कृष्टता को मान्यता देना।

रोलेक्स 2017 में एकेडमी ऑफ़ मोशन पिक्चर आर्ट्स एंड साइंसेज़ की एक्सक्लूसिव घड़ी बन गई और एकेडमी के एनुअल गर्वनर अवार्ड के प्रायोजक भी जो अगले साल फ़िल्मों में लाइफ़ टाइम अचीवमेंट से सम्मानित करेंगे। साल 2021 में ऑस्कर® आयोजन की प्रारंभिक जगह बदलकर यूनियन स्टेशन लॉस एंजिल्स किया गया था, जो एक ऐतिहासिक जगह है और संयुक्त राज्य अमेरिका में आखिरी महान ट्रेन स्टेशनों में से एक है।

रोलेक्स ग्रीनरूम 2021

साल 2016 से ही कंपनी ग्रीनरूम को डिज़ाइन और होस्ट कर रही है, जहाँ ऑस्कर® कार्यक्रम से पहले उसमें भाग लेने वाले प्रस्तुतकर्ता और खास अतिथि एक-दूसरे से मिलते हैं। यूनियन स्टेशन लॉस एंजिल्स में, रोलेक्स साल 2016 से ग्रीनरूम की मेज़बानी कर रहा है, उसने स्टेशन के पंखों में से एक के छत के नीचे एक अंतरंग सेटिंग बनाई है, जहां मेहमान सामाजिक दूरी का सम्मान करते हुए आराम कर सकते हैं। दीवारों को कपड़े से सजाया जाता है, जोकि यूनियन स्टेशन की नकल को एक "हरी दीवार" के साथ दिखाते हैं, इसमें पूरी तरह से हरियाली शामिल की गई है, जो इंटीरियर में प्राकृतिक स्पर्श देती है। यहाँ प्रदर्शित किए गए चित्रों का चयन मास्टरपीस के निर्माण, प्रतीक घड़ियों और अविस्मरणीय फिल्मों के निर्माण को श्रद्धांजलि देता है।

एकेडमी म्यूज़ियम ऑफ़ मोशन पिक्चर्स के संस्थापक समर्थक

आने वाली पीढ़ियों के लिए फ़िल्मों की विरासत को संरक्षित करने में सहायता करने के लिए, रोलेक्स नए एकेडमी म्यूज़ियम ऑफ मोशन पिक्चर्स का संस्थापक समर्थक है। प्रित्जकर पुरस्कार विजेता वास्तुकार रेनज़ो पियानो का डिज़ाइन किया गया, म्यूज़ियम और फ़िल्मों के दीवानों के हब में 50,000 वर्ग फुट (4,645 वर्ग मीटर) की एग्ज़ीबिशन गैलरी होंगी (इनमें से एक रोलेक्स द्वारा सिनेमा के साथ अपने संबंधों की खोज), और एक 1,000 सीट थिएटर और अन्य सुविधाओं के साथ होगी। म्यूज़ियम, जो दुनिया में पूर्व-प्रतिष्ठित फ़िल्म म्यूज़ियम होगा, लोगों को फ़िल्म तैयार करने वाली कला और विज्ञान का जादू समझने में मदद करेगा।

अग्रणी फिल्म निर्माताओं के काम की खोज करने वाली खास एग्ज़ीबिशन के साथ, विज़िटर मूक फ़िल्मों से लेकर आधुनिक युग में फ़िल्म के इतिहास का जान सकेंगे। और यादगार फ़िल्मों के शौकीन लोग फ़िल्म मेमोरैबिलिया देखेंगे, रिक कैफ़े अमेरीकेन सेकासाब्लांका,पृष्ठभूमि में बारिश में गाने से, या हॉलीवुड के स्वर्ण युग से मर्लिन मुनरो जैसे सितारों को दिखाती गैलरी।

यह पेज शेयर करें