ब्राउज़र अपडेट आवश्यक

rolex.com पर आपका स्वागत है। आपको सर्वोत्तम संभव अनुभव प्रदान करने के लिए, rolex.com को अप-टु-डेट ब्राउज़र की आवश्यकता है। कृपया हमारी साइट को अच्छी तरह देखने के लिए किसी अधिक नए ब्राउज़र का प्रयोग करें।

QR कोड स्कैन करके WeChat पर रोलेक्स को फ़ॉलो करें
Making of Rolex Deepsea Challenge with James Cameron

महासागरों
की अधिकतम गहराइयों तक

रोलेक्स डीपसी चैलेंज

अन्तर्जलीय अन्वेषण के अपने जुनून पर खरा उतरते हुए, रोलेक्स ने, नेशनल ज्योग्राफ़िक सोसाइटी की साझेदारी में, फ़िल्म-निर्माता और अन्वेषक जेम्स कैमरन ( टाइटैनिक और एवेटरके निर्देशक) के ऐतिहासिक डीपसी चैलेंज अभियान में, सक्रिय  रूप से भाग लिया। 26 मार्च 2012 को, जेम्स कैमरन द्वारा संचालित अभियान की पनडुब्बी 10,908 मीटर (35,787 फीट) नीचे उतरकर विश्व के महासागरों के सबसे गहरे बिंदु, चैलेंजर डीप तक पहुंच गई। डीपसी चैलेंजरके साथ एक प्रयोगात्मक डाइवर्स घड़ी भी मौजूद थी, उसकी रोबोटिक मेनिपुलेटर आर्म पर लगी रोलेक्स डीपसी चैलेंज। उस चरम दाब में भी इस टाइमपीस ने उत्कृष्टता से प्रदर्शन करके, जलप्रतिरोधन में एक अग्रणी ब्रांड होने की रोलेक्स की स्थिति की पुष्टि की।

रोलेक्स ऐतिहासिक डीपसी चैलेंज
रोलेक्स डीपसी एक्सप्लोरेशन चैलेंज


रोलेक्स डीपसी चैलेंज का निर्माण

कहानी

इस प्रयोगात्मक डाइवर्स घड़ी के बनने की कहानी की शुरुआत और अंत होता है स्विट्ज़रलैंड में स्थित रोलेक्स मुख्यालय में, जहाँ घड़ीसाज़ों का तकनीकी ज्ञान और अत्यधिक विशिष्ट टीम की निपुणता को परीक्षित किया गया — फिर एक और पथप्रदर्शक प्रयास में — और वह सफल प्रमाणित हुई।

एक अभियांत्रिकी चुनौती

गोते से 53 दिन पहले

इस मूवमेंट के व्यास और रोलेक्स डीपसी के डायल को शुरुआती बिन्दु ले कर, डिज़ाइन इंजीनियरों ने 1500-बार के झटके के दाब को सहन करने के लिए लंबाई-चौढ़ाई की गणना की। 15,000 मीटर की गहराई पर, इस घड़ी के क्रिस्टल पर पड़ने वाला बल, लगभग 17 टन होता है और पिछले केस पर पड़ने वाला बल लगभग 23 टन; जो उस घड़ी के ऊपर रखी 10 एसयूवी गाड़ियों के बल के समतुल्य है।

रोलेक्स और डीपसी चैलेंज
रोलेक्स डीपसी स्पेशल मॉडल

एक घड़ी जिसका नाम रखा गया रोलेक्स डीपसी चैलेंज

गोते से 43 दिन पहले

परियोजना के लॉंच होने पर, इस प्रयोगात्मक घड़ी को एक नाम चाहिए था। इसका विकल्प स्पष्ट था, उसका नाम रखा जाएगा रोलेक्स डीप सी चैलेंज जो उसकी तिहरी विरासत को एक श्रद्धांजलि होगी : जेम्स कैमरन की परियोजना के नाम की; 1960 डीप सी स्पेशल मॉडल की जो त्रिएस्ते के साथ गई थी; और अंततः 2008 रोलेक्स डीपसी जो इस घड़ी की वैचारिक, तकनीकी और कलात्मक रूपरेखा थी।

रोलेक्स डीपसी संरचना
सी-ड्वेलर डिज़ाइन

आयाम
ही सब कुछ हैं

गोते से 24 दिन पहले

रोलेक्स की रिंग लॉक प्रणाली
रोलेक्स घड़ीसाज़ी

दबाव में
घड़ीसाज़

गोते से 21 दिन पहले

रोलेक्स के घड़ीसाज़ अत्यधिक गोपनीय विशेष परियोजनाओं में काम करने के आदि हैं। लेकिन उनमें से दो के लिए, यह नवीनतम मिशन वास्तव में विशेष था। रोलेक्स डीपसी चैलेंज घड़ियों के आकार से बड़े केसों में मूवमेंट्स को बिठाना, केस बैक को सील करना और घड़ियों को रोलेक्स के मानक फंक्शनल और क्रोनोमेट्रिक परीक्षणों के पार पहुंचाना, उनके ऊपर निर्भर था। यह ध्यान में रखते हुए कि चेन के अंतिम लिंक होने के नाते, पूरी परियोजना का भविष्य उनकी कार्य की गुणवत्ता पर निर्भर था, यह एक बहुत बड़ी ज़िम्मेदारी थी।

रोलेक्स डीप सी अन्वेषण

मिशन पूरा हुआ

7h46

रोलेक्स डीपसी चैलेंज
रोलेक्स डीपसी विशेष विवरण

रोलेक्स डीपसी चैलेंज

विशेष विवरण

जेम्स कैमरन

अन्वेषण करते रहिए

क्या आप रोलेक्स की दुनिया के बारे में और अधिक जानना चाहेंगे?