ब्राउज़र अपडेट आवश्यक

rolex.com पर आपका स्वागत है। आपको सर्वोत्तम संभव अनुभव प्रदान करने के लिए, rolex.com को अप-टु-डेट ब्राउज़र की आवश्यकता है। कृपया हमारी साइट को अच्छी तरह देखने के लिए किसी अधिक नए ब्राउज़र का प्रयोग करें।

QR कोड स्कैन करके WeChat पर रोलेक्स को फ़ॉलो करें

युंडी

प्रत्येक रोलेक्स एक कहानी बयां करती है

चीनी शास्त्रीय पियानो वादक युंडी ने सात साल की उम्र में पियानो पर अपने हाथ आज़माने से पहले ही एक असाधारण संगीत प्रतिभा को उजागर कर दिया था। एक छात्र होते हुए, उन्होंने अनेक प्रतिष्ठित अंतरराष्ट्रीय पियानो प्रतियोगिताएँ जीती, 2000 में अंतर्राष्ट्रीय फ्रेडेरिक चोपिन पियानो प्रतियोगिता को जीतने वाले सर्वकालिक सबसे कम उम्र के पियानोवादक के रूप में अपनी जीत में समापन किया, जब वो सिर्फ 18 वर्ष के थे। उनकी रोलेक्स डेटोना स्वयं की उपलब्धियों के लिए खुद को उनका उपहार था, जिसका श्रेय वो अपने माता-पिता को देते हैं, जिन्होंने उन्हें उनकी क्षमता उजागर करने की अनुमति दी। बदले में, उन्होंने अपने पिता के लिए एक उत्कृष्ट भेंट खोजी, ताकि वो दोनों सदा जुड़े रहें, चाहे दूरी कितनी भी हो: वो थी एक रोलेक्स घड़ी।

Every Rolex Tells A Story – Yundi

“जब मैं छोटा था, तभी मैंने संगीत को पहचाना, मुझे लगता है यही मेरा भाग्य था। मेरे लिए, यह जादुई था, इसे कहानियों को बताने के लिए एक भाषा के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है। ”

कई चीनी परिवारों में, परिजनों की अपने बच्चों के प्रति काफी अधिक उम्मीदें होती हैं। लेकिन मेरे माता-पिता अलग थे। उन्होंने मुझे वो करने की बहुत आज़ादी दी जो मैं करना चाहता था। वो बहुत ही खुले विचारों वाले और सहिष्णु हैं। मुझे लगता है कि इन गुणों का संगीत और कला के मेरे प्रयासों पर बहुत असर पड़ा है। मेरे माता-पिता को धन्यवाद कि मैं अपनी क्षमता को पूरी तरह से खोलने में सक्षम हुआ।

18 वर्ष की उम्र में जब मैंने चोपिन अंतर्राष्ट्रीय पियानो प्रतियोगिता जीती, तभी से संगीत के मेरे करियर ने उड़ान भरी। 15 सालों तक, किसी को भी स्वर्ण पदक से सम्मानित नहीं किया गया था, और मैं चीन से यह पुरस्कार जीतने वाला पहला व्यक्ति भी था। जीतना कभी भी मेरी प्राथमिकता नहीं थी, इसलिए जब मैं जीता, तो मैं चौंक गया और मैंने सबसे पहले अपने माता-पिता को कॉल किया।

युंडी की रोलेक्स घड़ी

उस पुरस्कार को जीतने के बाद, मैंने खुद को एक विशेष भेंट देने की सोची। मेरे लिए, तब समय ही सबसे महत्वपूर्ण चीज़ थी, इसलिए मैं एक ऐसी घड़ी ढूँढना चाहता था जो हमेशा मेरे साथ रहे। मेरी नज़रों में, रोलेक्स हमेशा एक उच्च गुणवत्ता, परिशुद्धता और पूर्णता के प्रयासों का प्रतीक रही है। क्योंकि यह मेरे मूल्यों और संगीत के प्रयासों के जैसी ही है, इसलिए मैंने अपनी पहली रोलेक्स डेटोना खरीदने का निर्णय लिया। यह वो घड़ी थी जिसे, उस क्षण में, मैं सचमुच में पाना चाहता था। इसलिए जैसा मैंने अपने संगीत के सपने को पूरा करने के लिए किया था, इसे पाने के लिए मैंने अपना सर्वोत्तम किया।

“जीतना कभी भी मेरी प्राथमिकता नहीं थी, इसलिए जब मैं जीता, तो मैं चौंक गया और मैंने सबसे पहले अपने माता-पिता को कॉल किया। ”

यह घड़ी असल में मेरे हर महत्वपूर्ण क्षण में मेरे साथ रही है, जिनमें कार्नेगी हॉल, न्यूयॉर्क, रॉयल फेस्टिवल हॉल, लंदन और जापान के टूर के मेरे प्रदर्शन भी शामिल हैं। मेरा मानना है कि यह मेरे लिए और भी अधिक अर्थपूर्ण है क्योंकि ये उन सब पलों की साक्षी रही है। यह एक घड़ी से कहीं बढ़ कर है। यह मेरे विकास की साक्षी रही है, और इसने मेरे साथ सभी चुनौतियों का सामना भी किया है। किसी भी समय, चाहे मैं खुश हों या न हों, ये मेरे साथ रही है। मुझे लगता है कि इसका अपना जीवन है।

“यह एक घड़ी से कहीं बढ़ कर है। यह मेरे विकास की साक्षी रही है, और इसने मेरे साथ सभी चुनौतियों का सामना भी किया है। ”

मैं अपने पिताजी को एक खास जन्मदिन उपहार देने के बारे में सोच रहा था, ताकि जो कुछ भी उन्होंने मेरे लिए किया था मैं उसका धन्यवाद दे सकूँ; मैं उन्हें एक ऐसी चीज़ देना चाहता था, जो हर दिन उन्हें मेरी याद दिलाए। इसीलिए मैंने उन्हें एक रोलेक्स दी, इस आशा में कि वह उनके साथ भी वैसे ही रहेगी जैसे मेरी घड़ी मेरे साथ रही है। तब से, हमारा एक तरह का विशेष बंधन है। अब मैं दुनिया के हर कोने में कार्यक्रम करता हूँ, मैं जहाँ भी रहूँ, मुझे ऐसा महसूस होता है कि हम समय और इन दोनों घड़ियों के माध्यम से जुड़े हुए हैं।

जो कहानी मैंने आपके साथ साझा की वो वास्तव में संगीत की सराहना करने, मेरे माता-पिता और समय द्वारा मुझ तक लाई गई हर एक चीज़ की कहानी है। मैं इन सभी को जीवन भर संजो कर रखूँगा।