ब्राउज़र अपडेट आवश्यक

rolex.com पर आपका स्वागत है। आपको सर्वोत्तम संभव अनुभव प्रदान करने के लिए, rolex.com को अप-टु-डेट ब्राउज़र की आवश्यकता है। कृपया हमारी साइट को अच्छी तरह देखने के लिए किसी अधिक नए ब्राउज़र का प्रयोग करें।

QR कोड स्कैन करके WeChat पर रोलेक्स को फ़ॉलो करें

एंजेलीक कर्बर

प्रत्येक रोलेक्स एक कहानी बयां करती है

पेशेवर जर्मन टेनिस खिलाड़ी एंजेलीक कर्बर ने 2016 के ऑस्ट्रेलियन ओपन में सेरेना विलियम्स को हरा कर, अपना पहला ग्रैंड स्लैम® खिताब जीता। उसी वर्ष, उन्होंने विश्व नंबर 1 का स्थान भी प्राप्त किया। उन्होंने तीन वर्ष की उम्र में टेनिस खेलना शुरू किया और 15 की होते-होते वे एक पेशेवर टेनिस खिलाड़ी बन गईं। कर्बर कि दृढ़ता का फल, 2011 में न्यू यॉर्क में यू एस ओपन में तब मिला, जब वो 91वीं स्थान प्राप्त खिलाड़ी होते हुए भी आश्चर्यजनक सेमीफाइनलिस्ट बन गईं, एक ऐसा पल जिसे वो अपने कैरियर की लंबी छलांग कहती हैं, और यही वो जगह है जहाँ उन्होंने स्वयं को एक रोलेक्स घड़ी भेंट करने के लिए भी चुना था।

“जब मैं 15 वर्ष की थी, तो मैं वहीं पहुँचने के सपने देखती थी जहाँ मैं आज हूँ। लेकिन ये उतना भी आसान नहीं है जितना मैंने सोचा था।”

मैं सचमुच में बहुत खुश हुई थी, जब मैं सबसे उम्रदराज़ विश्व नंबर 1 बनी थी। मेरे जीवन में बहुत उतार चढ़ाव आए हैं, जिनसे, जीवन में मैंने बहुत कुछ सीखा है, और शायद पाँच या 10 साल पहले की तुलना में, मैं खेल का काफी अधिक आनंद उठा रही हूँ। यही कारण है कि जब मैं शीर्ष पर पहुँची तो मैं बहुत खुश हुई। जब मैं 15 वर्ष की थी, तो मैं वहीं पहुँचने के सपने देखती थी जहाँ मैं आज हूँ। लेकिन ये उतना भी आसान नहीं है जितना मैंने सोचा था।
 

मेरे पहले ग्रैंड स्लैम® फाइनल में, मैं वास्तव में बेचैन थी, क्योंकि, मुझे पता नहीं था कि क्या अपेक्षा करनी चाहिए। लेकिन मैंने मन ही मन सोचा: “ठीक है, तुम्हें इस मौके को भुनाना है, क्योंकि तुम नहीं जानती कि तुम अपने जीवन में शायद एक, दो या तीन ग्रैंड स्लैम® फ़ाइनलों में खेलोगी या नहीं। और मैं दुनिया को यह दिखाने उतर गई कि मैं सबसे श्रेष्ठ में से एक हूँ।

एंजेलीक कर्बर की रोलेक्स घड़ी

“उस पल के बाद से, मैंने अपने आप पर और अपने खेल पर भरोसा किया। न्यू यॉर्क में जीतना मेरी सबसे बड़ी उपलब्धि थी। ”

2011 की वजह से न्यू यॉर्क मेरे लिए बहुत खास है। वो मेरे करियर की सबसे लंबी छलांग थी। मैंने उस साल की शुरुआत, हर एक मैच पहले ही दौर में हार कर की थी। यह बहुत मुश्किल था। और जब मैं साल का अंतिम ग्रैंड स्लैम® खेलने के लिए न्यू यॉर्क पहुँची, तो मैं फिर से एक बच्चे की तरह, बहुत धैर्य के साथ, आनंद लेते हुए और खुशी के साथ टेनिस खेल रही थी। उस पल के बाद से, मैंने अपने आप पर और अपने खेल पर भरोसा किया। न्यू यॉर्क में जीतना मेरी सबसे बड़ी उपलब्धि थी।
 

यह घड़ी मुझे तब मिली जब दो साल पहले मैं न्यू यॉर्क में थी। मैं दुकान में बस 10 मिनट तक रही, क्योंकि, मुझे पता था कि मुझे कौन सी घड़ी चाहिए। और मेरे करियर के इस मुकाम पर, मैंने सोचा, “ठीक है, अब मैंने बहुत कुछ हासिल कर लिया है, और अब अपने लिए कुछ खरीदने का समय है।” मैंने न्यू यॉर्क को इसलिए चुना, क्योंकि वो मेरे करियर का एक महत्वपूर्ण मोड़ था। 

मुझे लगता है कि यह घड़ी भी मेरा ही एक हिस्सा है। मुझे इसे पहन कर आत्मविश्वास आता है, क्योंकि मुझे इस घड़ी की कहानी पता है, और जब मैं इसे पहन सकती हूँ, और मैं इसे उन लोगों को दिखा सकती हूँ जो शायद मेरी कहानी से वाक़िफ़ न हों, तो मुझे अच्छा एहसास होता है। 

“क्योंकि, मुझे पता था कि मुझे कौन सी घड़ी चाहिए। और मेरे करियर के इस मुकाम पर, मैंने सोचा, ठीक है, अब मैंने बहुत कुछ हासिल कर लिया है, और अब अपने लिए कुछ खरीदने का समय है। ”

रोलेक्स परिवार का हिस्सा होना भी मेरे लिए बहुत मायने रखता है, क्योंकि, हर किसी ने कुछ न कुछ बड़ी उपलब्धि हासिल की है, और वो सभी उसके लिए लड़ रहे हैं। हर किसी के सामने उतार-चढ़ाव आते हैं – वो अपने जीवन के सबसे कठिन पलों से सीखते हैं और कभी हार नहीं मानते।