ब्राउज़र अपडेट आवश्यक

rolex.com पर आपका स्वागत है। आपको सर्वोत्तम संभव अनुभव प्रदान करने के लिए, rolex.com को अप-टु-डेट ब्राउज़र की आवश्यकता है। कृपया हमारी साइट को अच्छी तरह देखने के लिए किसी अधिक नए ब्राउज़र का प्रयोग करें।

QR कोड स्कैन करके WeChat पर रोलेक्स को फ़ॉलो करें

एना इवानोविच

प्रत्येक रोलेक्स एक कहानी बयां करती है

एना इवानोविक ने 2003 से 2016 तक पेशेवर टेनिस सर्किट में उत्कृष्ट प्रदर्शन किया। अपने पूरे करियर के दौरान उन्होंने, 2008 फ्रेंच ओपन में ग्रैंड स्लैम® जीत सहित 15 डबल्यूटीए टूर सिंगल खिताब जीते हैं। वे 2008 में कुल 12 हफ्तों तक वर्ल्ड नंबर 1 रैंकिंग पर रहीं। उनकी प्रतिभा, उदारता और दयालुता ने उन्हें दुनियाभर के खेल के दीवानों और टेनिस फेंस के बीच सबसे पसंदीदा बना दिया है। उनकी रोलेक्स घड़ी उनके टेनिस और व्यक्तिगत जीवन में, निरंतर सुधार के उनके सफर की प्रतीक है।

Every Rolex Tells a Story — Ana Ivanovic

“यह घड़ी मेरी अनंत यात्रा और दिन-रात की मेहनत का प्रतीक है। यह जारी रहती है, जिस पल आप कुछ जीतते हैं तब भी यह नहीं रुकती।”

मुझे तुरंत टेनिस से प्यार हो गया। मेरे पांचवे जन्मदिन पर, मुझे उपहार में एक टेनिस रैकेट मिला और यहीं से मेरी शुरुआत हुई। बड़े होते हुए, मुझे यही करने का मन था। ट्रेनिंग में जाना मेरा जुनून था और मुझे प्रतिस्पर्धा करना और चुनौतियाँ लेना बहुत पसंद था। मुझे बस इस खेल से प्यार था। ये मेरी पूरी दुनिया थी।

मेरा जन्म बेलग्रेड में हुआ था, जो भूतपूर्व युगोस्लाविया का हिस्सा था। मेरे देश में युद्ध के समय, कई कारणों की वजह से प्रशिक्षण लेना बहुत कठिन था। गर्मियों में ये ठीक था, हमारे वहाँ आउटडोर क्ले कोर्ट थे, जो हमें बेहद पसंद थे — लेकिन सर्दियों में, बेशक हमें प्रशिक्षण जारी रखना होता था, जो एकमात्र स्थान इसके लिए उपलब्ध थे, वे थे खाली इनडोर स्विमिंग पूल।

“किसी भी काम में आपको शीर्ष तक पहुँचने के लिए कुछ त्याग करने पड़ते हैं और आपको इसके लिए मेहनत करनी पड़ती है। आपको कुछ भी परोसा हुआ नहीं मिलता। मैं निरंतर बेहतर बनना चाहती थी।”

यह मुश्किल था, लेकिन मुझे अपने परिवार का बहुत समर्थन था। यही वो समय था जब मुझे एक खिलाड़ी के रूप में विकसित होना था और प्रतिस्पर्धा के लिए यात्रा करनी पड़ती थी। उस समय पर, देश छोड़ने के लिए वीज़ा प्राप्त करना चुनौतीपूर्ण होता था। हमें बेलग्रेड से बुडापेस्ट के लिए रात में बस से छः से सात घंटों का सफर तय करना होता था। फिर बुडापेस्ट से, हमें कनैक्टिंग फ्लाइट लेनी पड़ती थी — और इतना सब कुछ जितना संभव हो, उतने सस्ते में।

किसी भी काम में आपको शीर्ष तक पहुँचने के लिए कुछ त्याग करने पड़ते हैं और आपको इसके लिए मेहनत करनी पड़ती है। आपको कुछ भी परोसा हुआ नहीं मिलता। मैं निरंतर बेहतर बनना चाहती थी। मैं हमेशा खुद से 100 प्रतिशत की अपेक्षा रखती थी और कभी भी संतुष्ट नहीं होती थी। मुझे प्रवीणता चाहिए थी। मुझे लगता है कि इंसान के रूप में, हम निरंतर विकसित होते हैं, और इसे सही मूल्यों, सही विश्वास और सही प्रेरणा के साथ करना महत्वपूर्ण है। मुझे लगता है कि जब आप उस उत्कृष्ट और सफल करियर या वातावरण के लिए संघर्षरत होते हैं, आपको असफलताओं का सामना करना ज़रूरी होता है क्योंकि इनसे आपको सीख मिलती है, और ये कई बार आपको जीत से कहीं अधिक सिखाती हैं।

“अपने हाथ में ट्रॉफी पकड़ते हुए और जितना संभव हो सके उतना ऊपर उठाते हुए और अपनी कलाई पर अपनी नई रोलेक्स को देखते हुए मुझे अपनी मेहनत और खुद पर भरोसे की याद आई। ये सब एक साथ हुआ।”

2008 मेरे लिए एक बहुत खास वर्ष था। मैं बस 20 की थी और मैं एक नवागंतुक से इस खेल के शीर्ष पर पहुँची, जो एक ऐसी चीज़ थी जिसके मैं हमेशा सपने देखती थी, और ये सब इतनी जल्दी हो रहा था। उसके पिछले साल मैं फ्रेंच ओपन के फ़ाइनल में पहुँची — जिसे मैं हार गई, लेकिन 2008 आते आते, मैं इंडियन वेल्स जीती और ऑस्ट्रेलियन ओपन के फ़ाइनल में पहुँची।

इन सभी अनुभवों की ही वजह से 2008 में मैं फ्रेंच ओपन जीती और उसी सप्ताह वर्ल्ड नंबर 1 भी बनी। रोलां-गैरोस से ठीक पहले ही मैंने अपनी रोलेक्स डेटोना खरीदी। फ्रेंच ओपन जीतना मेरे लिए बहुत ही भावुक पल था। अपने हाथ में ट्रॉफी पकड़ते हुए और जितना संभव हो सके उतना ऊपर उठाते हुए और अपनी कलाई पर अपनी नई रोलेक्स को देखते हुए मुझे अपनी मेहनत और खुद पर भरोसे की याद आई। ये सब एक साथ हुआ।

एनिका सोरेनस्टैम की रोलेक्स घड़ी

ये घड़ी मेरी अनंत यात्रा और दिन रात की मेहनत का प्रतीक है। ये जारी रहती है, जिस पल आप कुछ जीतते हैं तब भी ये नहीं रुकती। ये चलती रहती है क्योंकि आप हमेशा बेहतर करना चाहते हैं और सुधार लाना चाहते हैं। चाहे वो एक टेनिस खिलाड़ी के तौर पर हो, एक व्यक्ति, एक बिज़नसमैन या फिर केवल एक माता-पिता के तौर पर: आप प्रतिदिन एक बेहतर व्यक्ति बनना चाहते हैं। यही स्थायी है और जहाँ तक मेरा मानना है रोलेक्स भी इसी का प्रतीक है: निरंतर सुधार और स्थिरता।

“रोलेक्स सिर्फ एक घड़ी नहीं है। मुझे लगता है कि यह उससे कहीं अधिक है। यह उन मूल्यों का भी प्रतीक है जिन्हें हम न केवल खुद में अंतर्निविष्ट करने की आशा रखते हैं, बल्कि हम चाहते हैं कि वे पीढ़ी दर पीढ़ी आगे बढ़ते रहें।”

जब मैंने फ्रेंच ओपन जीता, तो मुझे अपनी टीम के साथ अपनी खुशी बांटना उपयुक्त लगा, इसलिए मैंने अपनी टीम के सभी सदस्यों को एक रोलेक्स भेंट की और उसमें “ड्रीम टीम RG08” उत्कीर्ण करवाया। जब मेरी और मेरे पति की शादी हुई, तो हमने अपने परिवार को एक उपहार देने का निर्णय लिए ताकि वो उस दिन को अपने तरीके से याद रख सकें। हमने निर्णय लिया कि हम दोनों की माँ के पास एक रोलेक्स होनी चाहिए, इसलिए हमने उन दोनों के लिए घड़ियाँ खरीदीं, और हमने उनके पीछे भी कुछ उत्कीर्ण करवाया... उन दोनों को जब वो घड़ी मिली तो वे बहुत भावुक हो गईं।

मैं चाहती थी कि मेरा परिवार और मेरे करीबी लोग रोलेक्स परिवार का हिस्सा बनें क्योंकि रोलेक्स मात्र एक घड़ी नहीं है। मुझे लगता है कि ये उससे कहीं अधिक है। ये उन मूल्यों का भी प्रतीक है जिन्हें हम न केवल खुद में अंतर्निविष्ट करने की आशा रखते हैं, बल्कि हम चाहते हैं कि ये पीढ़ी दर पीढ़ी आगे बढ़ते रहें। जैसा हम अपनी घड़ियों के साथ करने की उम्मीद करते हैं।